chat_bubble_outline Chat with Astrologer

द्वारा प्रसिद्ध व्यक्तियों का राशिफल खोजे

अजीम प्रेमजी दशा फल राशिफल

अजीम प्रेमजी Horoscope and Astrology
नाम:

अजीम प्रेमजी

जन्म तिथि:

Jul 24, 1945

जन्म समय:

12:0:0

जन्म स्थान:

Bombay

रेखांश:

72 E 50

अक्षांश:

18 N 58

टाइम ज़ोन:

5.5

सूचना स्रोत:

Unknown

एस्ट्रोसेज रेटिंग:

अप्रामाणिक स्रोत (अ.स्रो.)


अजीम प्रेमजी का फलादेश जन्म से March 1, 1951 तक

अजीम प्रेमजी की इच्छाएं व महत्वाकांक्षायें पूरी होगी। मित्रों और रिश्तेदारों से सहायता पायेंगे। इस समय के सौदे सफलदायक सिद्ध होंगे। अनुबन्धों और समझौतों से अजीम प्रेमजी को प्रचुर लाभ मिलेगा। प्रेम एवम् प्रणय संबंधों के लिये भी यह एक श्रेष्ठ समय है। आमदनी में अच्छी खासी वृद्धि होगी। लम्बी यात्राएं सुखद व सफलदायक सिद्ध होगी।

अजीम प्रेमजी का फलादेश March 1, 1951 से March 1, 1961 तक

यह बहुत अच्छा समय है। अजीम प्रेमजी सुखी और विलासपूर्ण जीवन व्यतीत करेंगे। विलास सामग्री पर भी खर्च करेंगे। मां बाप से संबंध बहुत मधुर रहेंगे। अगर नौकरी करते हैं तो पदोन्नति प्राप्त करेंगे। शत्रुओं पर विजय पायेंगे। आमदनी में काफी इजाफा होगा।

अजीम प्रेमजी का फलादेश March 1, 1961 से March 1, 1968 तक

बड़े बूढों से सहयोग प्राप्त करेंगे। सुदूर स्थलों तक की गई लम्बी यात्राएं सफलदायक सिद्ध होंगी। आमदनी बढ़ेगी और आय के नये स्त्रोत प्राप्त होंगे। यद्यापि खर्चे भी बढेंगे लेकिन आमदनी से अधिक नहीं होंगे। सट्टे के द्वारा आय होने की भी संभावना है। इस समय का पूरा सदुपयोग करें।

अजीम प्रेमजी का फलादेश March 1, 1968 से March 1, 1986 तक

इस अवधि के दौरान अजीम प्रेमजी का अपने प्रति विश्वास बहुत बढ़ा चढ़ा रहेगा। अजीम प्रेमजी निडर संघर्षप्रेमी और झगड़े झंझट से डरने वाले नहीं होंगे। अजीम प्रेमजी की मेहनत और कर्मठता से व्यापार धंधे में विकास होगा। वरिष्ठ लोगों और सत्ताधारी व्यक्तियों से अजीम प्रेमजी के संबंध मधुर रहेंगे। साथ ही साथ अजीम प्रेमजी के व्यापारिक क्षेत्र में बढ़ोत्तरी होगी। एक सोची हुई यात्रा पूरी करने से असीमित लाभ प्राप्त करेंगे। प्रतिस्पर्धा में विजयी रहकर अजीम प्रेमजी अपने शत्रुओं का पराभव कर देंगे। स्वास्थ्य भी बहुत अच्छा रहेगा।

अजीम प्रेमजी का फलादेश March 1, 1986 से March 1, 2002 तक

अजीम प्रेमजी शुभ एवम श्रेष्ठ कृत्यों से सम्ब्दीत रहेंगे। इस दौरान अजीम प्रेमजी काफी प्रसन्न रहेंगे और परिवार में कोई श्रेष्ठ संस्कार भी सम्पन्न होगा। अजीम प्रेमजी की आमदनी बढ़ेगी तथा सरकारी अफसरों से अजीम प्रेमजी के संबंध भी सुधरेंगे। अपनी योग्यता के कारण अजीम प्रेमजी विपरीत परिस्थितियों का भी भली प्रकार सामना कर लेंगे। पारिवारिक सुख सुनिश्चित रहेगा। दर्शन एवम् तत्व मीमांसा में अजीम प्रेमजी की विशेष रूचि रहेगी। इस अवधि मे दिमाग पूरी तरह चैतन्य और सानकूल रहेगा।

अजीम प्रेमजी का फलादेश March 1, 2002 से March 1, 2021 तक

अपना मनचाहा परिणाम पाने के लिए अजीम प्रेमजी को कड़ी मेहनत करनी पड़ेगी। वैसे मोटे तौर पर परिणाम आशाजनक नहीं निकलेंगे लेकिन काम विलम्ब से पूरा होगा। इस अवधि में किसी काम में बड़ा परिवर्तन नहीं करना चाहिए। धैर्य की हर क्रिया में बहुत आवश्यकता रहेगी। साथी का स्वास्थ्य अजीम प्रेमजी को मानसिक रूप से चिन्तित रख सकता है। व्यापार नौकरी के सिलसिले में किए गए भ्रमण लाभकारी सिद्ध होंगे। जमीन की खरीद और किसी अच्छे समय करने के लिए मुल्तवी रखिए।

अजीम प्रेमजी का फलादेश March 1, 2021 से March 1, 2038 तक

यह अवधि अजीम प्रेमजी को मानसिक चिन्ताएं देगी। विरोधी प्रतिष्ठा पर आंच लाने का प्रयत्न करेंगे। व्यय बढ़ता रहेगा। अचानक हानि होने की भी संभावना है। स्वास्थ्य संबंधी समस्याओं के कारण परेशान रहेंगे। हानिकर कार्यो से भी सम्बंधित रह सकते हैं। पारिवारिक माहौल सौमनस्यपूर्ण नहीं रहेगा। अजीम प्रेमजी का मन अध्यात्म की ओर झुकेगा। समस्याओं परेशानियों का प्रतिरोध करने की कोशिश करें। जोखिम उठाने की प्रवृति पर नियंत्रण रखें और सब प्रकार की सट्टेबाजी से बचें।

अजीम प्रेमजी का फलादेश March 1, 2038 से March 1, 2045 तक

इस अवधि के दौरान वैचारिक स्पष्टता का अभाव रहेगा। साधारण रूप से प्रसन्नता नहीं मिलेगी। पारिवारिक वातावरण भी परेशान रखेगा। छोटी छोटी बातों पर झगड़ें और विवाद हो सकते हैं। व्यापार धन्धा भी मन्दा चलेगा। अगर नौकरी करते हैं तो नौकरी के हालात भी संतोषप्रद नहीं होंगे। इस अवधि में अजीम प्रेमजी के शीघ्र व्याधिग्रस्त होने की प्रवृति रहेगी। परिवारजनों की बीमारी चिन्तित रखेगी। वैसे अजीम प्रेमजी का मन धार्मिक क्रिया कलाप की ओर झुका रहेगा और अजीम प्रेमजी पवित्र स्थलों की यात्रा करेंगे।

अजीम प्रेमजी का फलादेश March 1, 2045 से March 1, 2065 तक

उच्च पदस्थ लोगों से अजीम प्रेमजी सम्मान प्राप्त करेंगे और उनके कृपा भाजन रहेंगे। माता पिता और गुरूजनों से संबंध अति मधुर रहेंगे। इस अवधि के दौरान अजीम प्रेमजी सुदूर प्रदेशों की यात्रा करेंगे। पारिवारिक जीवन अजीम प्रेमजी के लिये सुखद एवम् अनुकूल रहेगा। अजीम प्रेमजी के थोड़े प्रयत्न करने पर भी अजीम प्रेमजी की आमदनी बढ जायेगी। इस अवधि के दौरान विपरीत परिस्थितियों से सही तौर पर निपटने की अजीम प्रेमजी की क्षमता का विकास होगा। अगर अजीम प्रेमजी की पदोन्नति होने ही वाली है तो जैसी चाहेंगे वैसी ही होगी। अजीम प्रेमजी का दिमाग धार्मिक क्रियाकलापों एवम् जीवन संबंधी उच्च दर्शन की ओर आकृष्ट रहेगा। हर लिहाज से यह समय अच्छा है।