Celebrity Horoscope Search By

गोचर 2021 राशिफल

B Praak Horoscope and Astrology
नाम:

B Praak

जन्म तिथि:

Feb 7, 1986

जन्म समय:

12:00:00

जन्म स्थान:

Chandigarh

रेखांश:

76 E 47

अक्षांश:

30 N 43

टाइम ज़ोन:

5.5

सूचना स्रोत:

Dirty Data

एस्ट्रोसेज रेटिंग:

अप्रामाणिक स्रोत (अ.स्रो.)


B Praak का 2021 का गुरू गोचर फलादेश

प्रभावशाली वाणी होने के कारण लोगों से B Praak अपनी बात मनवा लेते हैं। प्रसिद्ध व्यक्तियों के B Praak सम्पर्क में आयेंगे। B Praak की ख्याति और प्रतिष्ठा सम्मान में बढ़ोत्तरी होगी। अपनी बुद्धिमत्ता के कारण B Praak प्रचुर लाभ पायेंगे। अपने व्यवसाय में B Praak अच्छा काम करेंगे। यात्रा से निश्चित लाभ प्राप्त करेंगे।

B Praak का 2021 का शनि गोचर फलादेश

उच्च पदस्थ लोगों से B Praak सम्मान प्राप्त करेंगे और उनके कृपा भाजन रहेंगे। माता पिता और गुरूजनों से संबंध अति मधुर रहेंगे। इस अवधि के दौरान B Praak सुदूर प्रदेशों की यात्रा करेंगे। पारिवारिक जीवन B Praak के लिये सुखद एवम् अनुकूल रहेगा। B Praak के थोड़े प्रयत्न करने पर भी B Praak की आमदनी बढ जायेगी। इस अवधि के दौरान विपरीत परिस्थितियों से सही तौर पर निपटने की B Praak की क्षमता का विकास होगा। अगर B Praak की पदोन्नति होने ही वाली है तो जैसी चाहेंगे वैसी ही होगी। B Praak का दिमाग धार्मिक क्रियाकलापों एवम् जीवन संबंधी उच्च दर्शन की ओर आकृष्ट रहेगा। हर लिहाज से यह समय अच्छा है।

B Praak का 2021 का राहु गोचर फलादेश

यह अच्छा समय नहीं है क्योंकि B Praak के भागीदार या सहयोगी B Praak को नीचा दिखाएगें। औरों की लापरवाही और असफलताओं से B Praak चिन्तित रहेंगे। रोजमर्रा के कामों में भी समस्याएं खड़ी हो सकती है। बेबुनियाद इल्जाम B Praak के सर मंढे जाएगें। छोटे मोटे झंझट या विवादों से बचें। स्त्री वर्ग से B Praak के संबंध अच्छे नहीं रहेंगे। जहां तक संभव हो फालतू की यात्रा कम करें। व्यापार के बड़े बड़े निर्णय लेने या विकास की योजनाओं पर ध्यान देने के लिए यह आवश्यक है कि B Praak पूरी जांच परख करके ही ऐसा करें।

B Praak का 2021 का केतु गोचर फलादेश

इस अवधि में निवास स्थान या नौकरी का परिवर्तन संभावित है। भारी व्यय से B Praak व्यथित रहेंगे। अपने लोगों से ही झगड़े विवाद हो सकते हैं। यात्राएं थकाने वाली और सफलदायक नहीं रहेंगी। पारिवारिक सदस्य B Praak के प्रति उदासीन रहेंगे। शत्रु नुकसान पहुंचाने का प्रयत्न करेंगे। दुष्ट मित्रों से सावधान रहें। वह B Praak की प्रतिष्ठा पर आंच लायेंगे। परिवार के किसी सदस्य की बीमारी चिन्ता का एक कारण रहेगा। अभी किसी यात्रा की योजना न बनाएं।