द्वारा प्रसिद्ध व्यक्तियों का राशिफल खोजे

गोचर 2022 राशिफल

हाशिम अमला Horoscope and Astrology
नाम:

हाशिम अमला

जन्म तिथि:

Mar 31, 1983

जन्म समय:

12:00:00

जन्म स्थान:

Durban

रेखांश:

31 E 1

अक्षांश:

29 S 49

टाइम ज़ोन:

2

सूचना स्रोत:

Unknown

एस्ट्रोसेज रेटिंग:

अप्रामाणिक स्रोत (अ.स्रो.)


हाशिम अमला का 2022 का गुरू गोचर फलादेश

व्यापार या व्यवसाय में हाशिम अमला बहुत अच्छा काम करेंगे। व्यापार का विस्तार भी हो सकता है। इस अवधि के दौरान हाशिम अमला पूरी तरह कर्मठ रहेंगे। वरिष्ठ लोगों या सत्तावान व्यक्तियों के साथ हाशिम अमला के संबंधों में सुधार आयेगा। पारिवारिक माहौल संतोषप्रद रहेगा। हाशिम अमला को वाहन भी प्राप्त हो सकता है। विदेशों से अच्छी खबर मिलने की संभावना है। घर में किसी शुभ कृत्य का आयोजन होगा।

हाशिम अमला का 2022 का शनि गोचर फलादेश

इस अवधि में हाशिम अमला को हर प्रयास में सफलता मिलेगी। मित्र और सहयोगी हाशिम अमला को पूरा सहयोग देंगे। बहु प्रतीक्षित अभिलाषाओं और इच्छाओं की सम्पूर्ति होगी। भाई बहिन भी अपने अपने क्षेत्र में बहुत अच्छा कार्य करेंगे। यात्राओं से लाभ होगा। उच्च कोटि का पारिवारिक सुख प्राप्त करेंगे। परिवार में सदस्यों की बढोत्तरी होने की संभावना है। जीवन के विभिन्न क्षेत्रों में मिलने वाले मित्रों और सहयोगियों से अच्छी पटेगी। खर्चे अधिक होंगे लेकिन आमदनी से पूर पड़ती रहेगी।

हाशिम अमला का 2022 का राहु गोचर फलादेश

हाशिम अमला की सृजनात्मक क्षमता इस अवधि में छुपी रहेगी और बुद्धि विवेक का भी ह्रास होगा। इस मामलें में अधिक ध्यान देने की जरूरत है जिससे हाशिम अमला सही निर्णय ले सके। हाशिम अमला के बच्चों का स्वास्थ्य अच्छा नहीं रहेगा। मित्र व सहयोगी अपना वचन नहीं निभाएगें। झूठी आशाओं पर निर्भर करना ठीक नहीं। यात्राएं सफलदायक नहीं होगी। आर्थिक समस्याएं दिमागी शांति को भंग करेगी। जोखिम उठाने वाली प्रवृतियों पर पूरी तरह अंकुश लगाकर रखे।

हाशिम अमला का 2022 का केतु गोचर फलादेश

उल्टी सीधी तरह से काम करने की हाशिम अमला की प्रवृति होगी। किसी भ्रम में न रहें। इस अवधि में हाशिम अमला को डर सताता रहेगा। हाशिम अमला के अपने लोग बार बार हाशिम अमला को धोखा देंगे। जल्दबाजी या हड़बड़ी से कोई फायदा नहीं होगा। स्त्री वर्ग से हाशिम अमला के संबंध अच्छे नहीं रहेंगे। शीघ्र पैसा बनाने के तरीकों पर अच्छी तरह सोच विचार कर अमल करें। तथ्यजीवी रहें स्मृतिजीवी नहीं। किसी गुप्त रोग के कारण हाशिम अमला परेशान रह सकते हैं।