• Talk to astrologers
  • AstroSage Brihat Horoscope
  • Cogniastro
  • Ask A Question
  • Raj Yoga Report
ब्राउज़ करें

पूजा गौर दशा फल राशिफल

पूजा
नाम: पूजा गौर
जन्म तिथि: Jun 1, 1991
जन्म समय: 12:0:0
जन्म स्थान: Ahmedabad
रेखांश: 72 E 40
अक्षांश: 23 N 3
टाइम ज़ोन: 5.5
सूचना स्रोत: Unknown
एस्ट्रोसेज रेटिंग: अप्रामाणिक स्रोत (अ.स्रो.)

पूजा गौर दशा फल राशिफल

पूजा गौर का फलादेश जन्म से November 29, 1996 तक

इस अवधि में पूजा गौर बहुत क्रियाशील एवम् व्यस्त रहेंगे। व्यापार या नौकरी में सफलता प्राप्त करेंगे और अपने वरिष्ठ अधिकारियों के कृपाभाजन रहेंगे। यह समय पूजा गौर की कर्मठता का समय सिद्ध होगा। व्यापार के कारण सफलदायक यात्राएं करेंगे। सब लिहाज से यह समय काफी संतोषप्रद सिद्ध होगा। इस समय में पूजा गौर अपनी सारी आर्थिक समस्याओं से छुटकारा पा जायेंगे।

पूजा गौर का फलादेश November 29, 1996 से November 29, 2006 तक

यह वह समय है जब पूजा गौर की योजनाएं सफलीभूत होंगी। अपनी सृजनात्मक बुद्धि के कारण पूजा गौर सफल होंगे। प्रणय एवम् प्रेम संबंधों के लिहाज से भी यह अच्छा समय है। पूजा गौर की सारी जरूरतें पूर्ण करने के लिये मित्र तत्पर रहेंगे। पूजा गौर के लेखन की लोग सराहना करेंगे।

पूजा गौर का फलादेश November 29, 2006 से November 29, 2013 तक

इस अवधि में पूजा गौर को कई प्रतिकूल परिस्थितियों और परेशानियों का सामना करना पड़ेगा और इस कारण दुख उठायेंगे। कुछ दुख इसलिये भी बढेंगे कि पूजा गौर झुकना नहीं जानते और अपने घमण्ड के कारण परिस्थितियों को और खराब करेंगे। स्वास्थ्य से भी परेशान रहेंगे। खर्चा बढ़ता ही जायेगा। यद्यपि साथी के स्वास्थ्य में सुधार के लक्षण दिखाई पड़ेंगे। परन्तु पूर्ण सुधार में समय लगेगा। पूजा गौर की मानसिक शांति भंग रहेगी।

पूजा गौर का फलादेश November 29, 2013 से November 29, 2031 तक

सही निर्णय लेने की पूजा गौर की क्षमता और योग्यता पर बुरा प्रभाव पड़ेगा। पूजा गौर अपने आस पास भ्रम का विश्व बना लेना चाहेंगे। झूठी आशाएं पूजा गौर के लक्ष्य को भ्रमित कर देंगी। सट्टेबाजी की प्रवृति पर पूरा अंकुश लगाये। मित्रों से संबंध मधुर नहीं रहेंगे। किसी मुकदमेबाजी के चक्कर में अपने पूजा गौर को न फंसायें। किसी के जमानती बनने की चेष्टा न करें। अपने स्वास्थ्य का ख्याल रखें। फूड पाइजनिंग के कारण पेट के रोग उभर सकते हैं।

पूजा गौर का फलादेश November 29, 2031 से November 29, 2047 तक

पूजा गौर में किसी के प्रति लगाव नहीं होगा और लोग पूजा गौर के प्रति वैमनस्य का भाव रखेंगे। असुरक्षा की भावना से ग्रसित रहेंगे। फालतू के कामों में पूजा गौर अपना समय और पैसा बर्बाद करेंगे। पूजा गौर को दूसरों के लिये काम करना पड़ सकता है। खर्चे बहुत होंगे। विरोधी पूजा गौर को तनावग्रस्त रखेंगे। जहां तक संभव हो यात्राओं से पूजा गौर बचें। स्वास्थ्य का ध्यान रखें नहीं तो समस्यायें उठ खड़ी होंगी। परिवारजनों के बर्ताव मे भी काफी फर्क रहेगा। यह अच्छा रहेगा कि विपरीत परिस्थितियों को झेलते समय पूजा गौर अपने अन्दर प्रतिरोधात्मक शक्ति विकसित करें।

पूजा गौर का फलादेश November 29, 2047 से November 29, 2066 तक

पूजा गौर अपने कार्यक्षेत्र में बहुत अच्छा काम करेंगे। नौकरी या व्यवसाय की परिस्थितियों में काफी सुधार आएगा। प्रभावशाली व्यक्तियों से पूजा गौर के सम्पर्क बढेंगे। रोजमर्रा के जीवन में पूजा गौर अत्यधिक स्फूर्तिवान महसूस करेंगे। विरोधियों की पूजा गौर के सामने पड़ने की हिम्मत ही नहीं पड़ेगी। आर्थिक रूप से यह बहुत अच्छा समय सिद्ध होगा। छोटी यात्राएं उपयोगी रहेंगी। परिवार का माहौल पूर्ण संतोषप्रद रहेगा। इस अवधि के मध्य में छोटी मोटी बीमारी होने की संभावना है जिस पर पूजा गौर को थोड़ा बहुत ध्यान रखने की आवश्यकता है।

पूजा गौर का फलादेश November 29, 2066 से November 29, 2083 तक

प्रभावशाली वाणी होने के कारण लोगों से पूजा गौर अपनी बात मनवा लेते हैं। प्रसिद्ध व्यक्तियों के पूजा गौर सम्पर्क में आयेंगे। पूजा गौर की ख्याति और प्रतिष्ठा सम्मान में बढ़ोत्तरी होगी। अपनी बुद्धिमत्ता के कारण पूजा गौर प्रचुर लाभ पायेंगे। अपने व्यवसाय में पूजा गौर अच्छा काम करेंगे। यात्रा से निश्चित लाभ प्राप्त करेंगे।

पूजा गौर का फलादेश November 29, 2083 से November 29, 2090 तक

अचानक परिस्थितियां पूजा गौर के काफी अनुकूल होती जायेंगी। कुछ व्यापारिक सौदे पूजा गौर को काफी लाभावत कर देंगे। मित्र और हितैषियों का पूरा सहयोग रहेगा। उच्च कोटि के शारीरिक या मांसल सुख पूजा गौर को प्राप्त होंगे। अगर नौकरीपेशा हैं तो पदोन्नति प्राप्त करेंगे। इस अवधि में लम्बी यात्रा की भी प्रबल संभावना है। पारिवारिक जीवन संतोष प्रदान करेगा। सामाजिक क्षेत्र में पूजा गौर प्रचुर प्रतिष्ठा और सम्मान के भागी होंगे।

पूजा गौर का फलादेश November 29, 2090 से November 29, 2110 तक

पूजा गौर सुविधा और विलास के साधनों पर खर्च करेंगे। उच्च कोटि का वैवाहिक सुख भोगेंगे। फिर भी अच्छा होगा कि पूजा गौर अपनी भोग वृती पर अंकुश लगायें वरना आनन्द प्राप्त करने के बजाय परेशानी उठानी पड़ जायेगी। छोटी मोटी बीमारी परेशान करेगी। प्रणय संबंधों की गति धीमी रखें। विरोधी और प्रतिद्वन्दी नुकसान पहुंचाने का प्रयत्न करेंगे। यघपि पूजा गौर उनकी परवाह नहीं करेंगे फिर भी पूजा गौर को सलाह दी जाती है कि ऐसा न करें। आर्थिक रूप से यह बुरा समय नहीं है पर खर्चो पर नियंत्रण रखें। परिवार जन के स्वास्थ्य के कारण पूजा गौर चिन्तित रह सकते हैं।

Buy Brihat Horoscope

250+ pages @ Rs. 999/-

Brihat horoscope

AstroSage on MobileAll Mobile Apps

Buy Gemstones

Best quality gemstones with assurance of AstroSage.com

Buy Yantras

Take advantage of Yantra with assurance of AstroSage.com

Buy Navagrah Yantras

Yantra to pacify planets and have a happy life .. get from AstroSage.com

Buy Rudraksh

Best quality Rudraksh with assurance of AstroSage.com