द्वारा प्रसिद्ध व्यक्तियों का राशिफल खोजे

गोचर 2022 राशिफल

सिंधु मेनन Horoscope and Astrology
नाम:

सिंधु मेनन

जन्म तिथि:

Jun 17, 1985

जन्म समय:

12:0:0

जन्म स्थान:

Bangalore

रेखांश:

77 E 35

अक्षांश:

13 N 0

टाइम ज़ोन:

5.5

सूचना स्रोत:

Unknown

एस्ट्रोसेज रेटिंग:

अप्रामाणिक स्रोत (अ.स्रो.)


सिंधु मेनन का 2022 का गुरू गोचर फलादेश

सिंधु मेनन की लम्बी यात्रा करने की पूरी संभावना है। मित्र व सहयोगी सहायता करेंगे। अपने व्यवसाय या व्यापार को बढाने चमकाने के कई मौके आयेंगे। इच्छा और महत्वाकांक्षाओं की सम्पूर्ति होगी। भाई या घनिष्ठ मित्र के बारे में कोई शुभ समाचार प्राप्त करेंगे। इस अवधि में हर तरफ से खुशहाल रहने की संभावना है। प्रणय संबंधों के लिये भी यह समय अच्छा है। इस समय का सदुपयोग करें। इस दौरान सिंधु मेनन के कई लोगों से मित्रतापूर्ण संबंध कायम होंगे।

सिंधु मेनन का 2022 का शनि गोचर फलादेश

उच्च पदस्थ लोगों से सिंधु मेनन सम्मान प्राप्त करेंगे और उनके कृपा भाजन रहेंगे। माता पिता और गुरूजनों से संबंध अति मधुर रहेंगे। इस अवधि के दौरान सिंधु मेनन सुदूर प्रदेशों की यात्रा करेंगे। पारिवारिक जीवन सिंधु मेनन के लिये सुखद एवम् अनुकूल रहेगा। सिंधु मेनन के थोड़े प्रयत्न करने पर भी सिंधु मेनन की आमदनी बढ जायेगी। इस अवधि के दौरान विपरीत परिस्थितियों से सही तौर पर निपटने की सिंधु मेनन की क्षमता का विकास होगा। अगर सिंधु मेनन की पदोन्नति होने ही वाली है तो जैसी चाहेंगे वैसी ही होगी। सिंधु मेनन का दिमाग धार्मिक क्रियाकलापों एवम् जीवन संबंधी उच्च दर्शन की ओर आकृष्ट रहेगा। हर लिहाज से यह समय अच्छा है।

सिंधु मेनन का 2022 का राहु गोचर फलादेश

हर काम को सलीके से करने की सिंधु मेनन की बलवती इच्छा रहेगी। सिंधु मेनन का विश्वास बहुत बढ़ा चढ़ा रहेगा। नौकरी व्यापार या व्यवसाय में उत्साहवर्धक परिणाम निश्चित रूप से सामने आएंगें। नए उद्यमों या व्यवसायों में प्रवेश करने का मौका मिलेगा। आमदनी साधारण रूप से अच्छी रहेगी। पारिवारिक वातावरण बड़ा सौहार्दपूर्ण रहेगा। संचार माध्यमों से कोई अच्छी खबर मिल सकती है।

सिंधु मेनन का 2022 का केतु गोचर फलादेश

इस अवधि में सिंधु मेनन को मिले जुले फल मिलेंगे। वैसे सिंधु मेनन अपने व्यवसाय/व्यापार में अच्छा काम करेंगे। सिंधु मेनन अपने लक्ष्य से भ्रमित नहीं होंगे और एक बार हाथ में लेने के बाद काम छोड़ेंगे नहीं। सिंधु मेनन का निश्चय दृढ़ रहेगा। लेकिन गुरूजनों और माता पिता से संबंध बहुत अच्छे नहीं रहेंगे। कभी कभी सिंधु मेनन तर्क बुद्धि से इतना काम लेंगे कि मामले की तह तक ही न पहुंच पायेंगे। सिंधु मेनन के व्यक्तित्व में अहंकार का प्रवेश हो जायेगा। सिंधु मेनन के इस बर्ताव से सिंधु मेनन जनप्रिय नहीं रह पायेंगे। अपनी अन्र्तदृष्टि से अपने सिंधु मेनन को जांचने परखने का प्रयत्न करें।