chat_bubble_outline Chat with Astrologer

द्वारा प्रसिद्ध व्यक्तियों का राशिफल खोजे

गोचर 2022 राशिफल

जयसूर्या Horoscope and Astrology
नाम:

जयसूर्या

जन्म तिथि:

Aug 31, 1978

जन्म समय:

12:00:00

जन्म स्थान:

Thrippunithura

रेखांश:

76 E 20

अक्षांश:

9 N 56

टाइम ज़ोन:

5.5

सूचना स्रोत:

Unknown

एस्ट्रोसेज रेटिंग:

अप्रामाणिक स्रोत (अ.स्रो.)


जयसूर्या का 2022 का गुरू गोचर फलादेश

प्रभावशाली वाणी होने के कारण लोगों से जयसूर्या अपनी बात मनवा लेते हैं। प्रसिद्ध व्यक्तियों के जयसूर्या सम्पर्क में आयेंगे। जयसूर्या की ख्याति और प्रतिष्ठा सम्मान में बढ़ोत्तरी होगी। अपनी बुद्धिमत्ता के कारण जयसूर्या प्रचुर लाभ पायेंगे। अपने व्यवसाय में जयसूर्या अच्छा काम करेंगे। यात्रा से निश्चित लाभ प्राप्त करेंगे।

जयसूर्या का 2022 का शनि गोचर फलादेश

इस अवधि में जयसूर्या को हर प्रयास में सफलता मिलेगी। मित्र और सहयोगी जयसूर्या को पूरा सहयोग देंगे। बहु प्रतीक्षित अभिलाषाओं और इच्छाओं की सम्पूर्ति होगी। भाई बहिन भी अपने अपने क्षेत्र में बहुत अच्छा कार्य करेंगे। यात्राओं से लाभ होगा। उच्च कोटि का पारिवारिक सुख प्राप्त करेंगे। परिवार में सदस्यों की बढोत्तरी होने की संभावना है। जीवन के विभिन्न क्षेत्रों में मिलने वाले मित्रों और सहयोगियों से अच्छी पटेगी। खर्चे अधिक होंगे लेकिन आमदनी से पूर पड़ती रहेगी।

जयसूर्या का 2022 का राहु गोचर फलादेश

अपना मनचाहा परिणाम पाने के लिए जयसूर्या को कड़ी मेहनत करनी पड़ेगी। वैसे मोटे तौर पर परिणाम आशाजनक नहीं निकलेंगे लेकिन काम विलम्ब से पूरा होगा। इस अवधि में किसी काम में बड़ा परिवर्तन नहीं करना चाहिए। धैर्य की हर क्रिया में बहुत आवश्यकता रहेगी। साथी का स्वास्थ्य जयसूर्या को मानसिक रूप से चिन्तित रख सकता है। व्यापार नौकरी के सिलसिले में किए गए भ्रमण लाभकारी सिद्ध होंगे। जमीन की खरीद और किसी अच्छे समय करने के लिए मुल्तवी रखिए।

जयसूर्या का 2022 का केतु गोचर फलादेश

जयसूर्या महत्वपूर्ण व्यक्तियों के सम्पर्क में आयेंगे। आमदनी में इजाफा स्पष्टरूप से प्रतिक्षित है। नये उद्यमों से सम्बद्ध रहेंगे। मित्र और सहयोगी पूरी मदद करेंगे। लम्बी यात्राओं से लाभ होगा। विदेशियों से अधिक सम्पर्क बनेंगे। पारिवारिक जीवन अति सुखद रहेगा। प्रणय और प्रेम संबंधों के लिये यह काल वरदान सदृश है। जयसूर्या संघर्ष में वीरोचित भावना से जूझते रहेंगे और शत्रुओं का पराभव कर देंगे। वैसे जयसूर्या का स्वास्थ्य ठीक रहेगा। सिर्फ कर्ण रोग से परेशान रह सकते हैं।