chat_bubble_outline Chat with Astrologer

द्वारा प्रसिद्ध व्यक्तियों का राशिफल खोजे

मोहम्मद शाहज़ाद 2022 राशिफल

मोहम्मद शाहज़ाद Horoscope and Astrology
नाम:

मोहम्मद शाहज़ाद

जन्म तिथि:

Jan 31, 1988

जन्म समय:

00:00:00

जन्म स्थान:

Jalalabad

रेखांश:

70 E 27

अक्षांश:

34 N 25

टाइम ज़ोन:

4.5

सूचना स्रोत:

Dirty Data

एस्ट्रोसेज रेटिंग:

अप्रामाणिक स्रोत (अ.स्रो.)


मोहम्मद शाहज़ाद का प्रेम राशिफल

प्रेम सम्बन्धों में भी मोहम्मद शाहज़ाद उतने ही ऊर्जावान होंगे, जितने कि मोहम्मद शाहज़ाद काम एवं खेल में हैं। एक बार मोहम्मद शाहज़ाद प्यार में पड़ गये, तो मोहम्मद शाहज़ाद अपने चहेते को प्रतिपल अपने पास रखना चाहेंगे। हालांकि मोहम्मद शाहज़ाद अपने कार्य की अनदेखी नहीं करेंगे, परन्तु एक बार वो खत्म हो गया तो मोहम्मद शाहज़ाद अपने प्रिय से मिलने को निकल पड़ेंगे। जब मोहम्मद शाहज़ाद का विवाह हो जाएगा तो मोहम्मद शाहज़ाद अपने घर पर अधिक ध्यान देंगे। मोहम्मद शाहज़ाद अक्सर जीवनसाथी की व्यापारिक मामलों में मदद करेंगे।

मोहम्मद शाहज़ाद का स्वास्थ्य राशिफल

मोहम्मद शाहज़ाद के लिये आराम की विशेष महत्ता है। परिणामस्वरूप, मोहम्मद शाहज़ाद स्वादलोलुप हैं और भोजन का पूर्ण आनन्द उठाते हैं। निश्चित तौर पर मोहम्मद शाहज़ाद जीने के लिये नहीं खाते, अपितु खाने के लिये जीते हैं। इसमें कोई आश्चर्य नहीं है कि पाचन-तन्त्र मोहम्मद शाहज़ाद के शरीर का ऐसा भाग है, जो मोहम्मद शाहज़ाद को सर्वाधिक परेशानी देगा। मोहम्मद शाहज़ाद को अपच जैसी बीमारियों को अनदेखा नहीं करना चाहिए और जब वे आती हैं, तो उन्हें दवाओं के द्वारा ठीक करने का प्रयत्न नहीं करना चाहिए। मोहम्मद शाहज़ाद को सैर एवं हल्का व्यायाम करना चाहिए। हमारी मोहम्मद शाहज़ाद को यह सलाह है कि मोहम्मद शाहज़ाद पर्याप्त ताजी हवा लें, भोजन पर नियन्त्रण रखें और फलों का सेवन करें। परन्तु यदि फिर भी कोई लाभ न हो, तो चिकित्सक के पास जाने से न झिझकें। पचास साल की आयु के पश्चात् आलस्य जैसे रोगों से दूर रहें। मोहम्मद शाहज़ाद की चीजों को छोड़ने की आदत के कारण मोहम्मद शाहज़ाद जिन्दगी से दूर होत जाएंगे। अपनी वस्तुओं में रूचि रखें, अपनी रुचियों का विकास करें एवं ध्यान रखें कि अगरमोहम्मद शाहज़ाद युवा-मण्डली में रहते हैं, तो मोहम्मद शाहज़ाद कभी भी उम्र का शिकार नहीं होेते।

मोहम्मद शाहज़ाद का रुचि राशिफल

मोहम्मद शाहज़ाद के कई शौक हैं और मोहम्मद शाहज़ाद इन शौकों से ओत-प्रोत हैं। परन्तु अचानक ही मोहम्मद शाहज़ाद धैर्य खो देते हैं व उन्हें एक तरफ कर देते हैं । फिर मोहम्मद शाहज़ाद कोई नया शौक चुन लेते हैं और उसका भी यही हश्र होता है। मोहम्मद शाहज़ाद जीवन को इसी तरह से जीते जाते हैं। सारांशतः मोहम्मद शाहज़ाद की अभिरुचियां मोहम्मद शाहज़ाद को पर्याप्त आनन्द देती हैं, साथ ही मोहम्मद शाहज़ाद को बहुत कुछ सीखने का मौका भी देती हैं।