द्वारा प्रसिद्ध व्यक्तियों का राशिफल खोजे

प्रीतम चक्रवर्ती 2021 राशिफल

प्रीतम चक्रवर्ती Horoscope and Astrology
नाम:

प्रीतम चक्रवर्ती

जन्म तिथि:

Jun 14, 1971

जन्म समय:

12:0:0

जन्म स्थान:

Calcutta

रेखांश:

88 E 20

अक्षांश:

22 N 30

टाइम ज़ोन:

5.5

सूचना स्रोत:

Unknown

एस्ट्रोसेज रेटिंग:

अप्रामाणिक स्रोत (अ.स्रो.)


प्रीतम चक्रवर्ती का प्रेम राशिफल

प्रीतम चक्रवर्ती कभी भी मित्रों को नहीं भूलते। परिणामस्वरूप,प्रीतम चक्रवर्ती की एक बड़ी मित्र मण्डली है, जिसमें से कई विदेशी भाषा बोलने में सक्षम हैं। इसी बड़े मित्र समूह से प्रीतम चक्रवर्ती अपना जीवनसाथी चुनेंगे। प्रीतम चक्रवर्ती की यह पसन्द प्रीतम चक्रवर्ती के परिचितों को आश्चर्यचकित कर देगी। प्रीतम चक्रवर्ती अरामपूर्वक विवाह करेंगे, लेकिन अन्य लोगों की तरह विवाह प्रीतम चक्रवर्ती के लिये सब कुछ नहीं होगा। अन्य कई विचलन ऐसे भी होंगे, जो प्रीतम चक्रवर्ती का ध्यान घर से हटाएंगे। यदि प्रीतम चक्रवर्ती का जीवनसाथी इस झुकाव को कम करने का प्रयत्न करेगा, तो यह प्रीतम चक्रवर्ती के पारिवारिक जीवन के लिये खतरा साबित हो सकता है।

प्रीतम चक्रवर्ती का स्वास्थ्य राशिफल

प्रीतम चक्रवर्ती के अन्दर प्रचुर ऊर्जा है। प्रीतम चक्रवर्ती हृष्ट-पुष्ट हैं व साधारणतः प्रीतम चक्रवर्ती किसी प्रकार के रोग से ग्रसित नहीं होंगे, जब तक कि प्रीतम चक्रवर्ती जरूरत से बहुत ज्यादा कार्य नहीं करते। सिर्फ इसलिये कि प्रीतम चक्रवर्ती मोमबत्ती को दोनों सिरों से जला सकते हैं, प्रीतम चक्रवर्ती को यह करने के बारे में नहीं सोचना चाहिए। प्रीतम चक्रवर्ती को अपने प्रति संयमी होना चाहिए और अपने स्वास्थ्य-कोष में से जरूरत से ज्यादा लेने का प्रयास नहीं करना चाहिए अन्यथा प्रीतम चक्रवर्ती जीवन के उत्तरार्ध में गम्भीर बीमारियों को निमन्त्रण दे सकते हैं। बीमारी यदि प्रायः नहीं आती है, तो अचानक ही आएगी। यद्यपि उसने परिपक्व होने में काफी लम्बा समय लिया होगा। प्रीतम चक्रवर्ती थोड़ा सा दिमाग लगाने पर पाएंगे कि प्रीतम चक्रवर्ती ने रोग को स्वयं ही आमन्त्रित किया है। इसमें कोई शक नहीं है कि प्रीतम चक्रवर्ती उससे बच सकते थे। प्रीतम चक्रवर्ती के नेत्र प्रीतम चक्रवर्ती की कमजोरी हैं और कृपया उसका ख्याल रखें। प्रीतम चक्रवर्ती पैंतीस की उम्र के बाद नेत्र-विकार से ग्रसित हो सकते हैं।

प्रीतम चक्रवर्ती का रुचि राशिफल

प्रीतम चक्रवर्ती के कई शौक हैं और प्रीतम चक्रवर्ती इन शौकों से ओत-प्रोत हैं। परन्तु अचानक ही प्रीतम चक्रवर्ती धैर्य खो देते हैं व उन्हें एक तरफ कर देते हैं । फिर प्रीतम चक्रवर्ती कोई नया शौक चुन लेते हैं और उसका भी यही हश्र होता है। प्रीतम चक्रवर्ती जीवन को इसी तरह से जीते जाते हैं। सारांशतः प्रीतम चक्रवर्ती की अभिरुचियां प्रीतम चक्रवर्ती को पर्याप्त आनन्द देती हैं, साथ ही प्रीतम चक्रवर्ती को बहुत कुछ सीखने का मौका भी देती हैं।