द्वारा प्रसिद्ध व्यक्तियों का राशिफल खोजे

गोचर 2022 राशिफल

पसुपथ्य Horoscope and Astrology
नाम:

पसुपथ्य

जन्म तिथि:

May 18, 1969

जन्म समय:

12:00:00

जन्म स्थान:

Chennai

रेखांश:

80 E 18

अक्षांश:

13 N 5

टाइम ज़ोन:

5.5

सूचना स्रोत:

Dirty Data

एस्ट्रोसेज रेटिंग:

अप्रामाणिक स्रोत (अ.स्रो.)


पसुपथ्य का 2022 का गुरू गोचर फलादेश

व्यापार या व्यवसाय में पसुपथ्य बहुत अच्छा काम करेंगे। व्यापार का विस्तार भी हो सकता है। इस अवधि के दौरान पसुपथ्य पूरी तरह कर्मठ रहेंगे। वरिष्ठ लोगों या सत्तावान व्यक्तियों के साथ पसुपथ्य के संबंधों में सुधार आयेगा। पारिवारिक माहौल संतोषप्रद रहेगा। पसुपथ्य को वाहन भी प्राप्त हो सकता है। विदेशों से अच्छी खबर मिलने की संभावना है। घर में किसी शुभ कृत्य का आयोजन होगा।

पसुपथ्य का 2022 का शनि गोचर फलादेश

किसी बदनामी देने वाले काण्ड में फंसने के कारण पसुपथ्य की प्रतिष्ठा पर आंच आयेगी। स्वास्थ्य के लिहाज से भी यह कोई अच्छा समय नहीं है। अचानक धन प्रात की संभावना है। लेकिन साथ ही साथ खर्चे भी बढेंगे। गुप्त और निगूढ सुखों को भोगने वाली प्रवृति पर अंकुश लगाये नहीं तो बड़ी शर्मनाक स्थिति का सामना करना पड़ सकता है। वैसे परिवारजनों का सहयोग पूरा रहेगा। यद्यपि कभी कभी मतभेद भी रह सकता है। जहां तक संभव हो यात्राएं न करें।

पसुपथ्य का 2022 का राहु गोचर फलादेश

इस अवधि के दौरान पसुपथ्य खूब खुश रहेंगे। पसुपथ्य के प्रयास अच्छे परिणाम देना शुरू कर देंगे। सरकारी अफसरों, वरिष्ठ लोगों एवं माता पिता से संबंध अति मधुर रहेंगे। एक लम्बी यात्रा बहुत फायदेमंद रहेगी। पसुपथ्य के मित्र व सहयोगी पसुपथ्य की पूरी सहायता करेंगे। पसुपथ्य का मन अध्यात्म और जीवन के उच्च दर्शन की ओर मुड़ जाएगा। नए व्यापार करने या नौकरी बदलने की पूरी संभावना है। विरोधी पसुपथ्य को कोई नुकसान नहीं पहुंचा पाएगें। छोटी मोटी बीमारियां लगी रहेंगी।

पसुपथ्य का 2022 का केतु गोचर फलादेश

इस अवधि के दौरान दुर्घटनायें मानसिक शांति भंग कर सकती हैं। प्रयासों में असफलता ही हाथ लगेगी। पसुपथ्य के भ्रम भयकारी मनोविकृति बन सकते हैं। पसुपथ्य की साथी का बर्ताव पसुपथ्य को असहनीय मालूम पड़ेगा। धन्धे / व्यापार में भी काम अच्छा नहीं चलेगा। कुछ न कुछ परेशानियां पसुपथ्य को सदैव घेरे रहेंगी। स्वास्थ्य की समस्याओं के कारण पसुपथ्य सही प्रकार से अपने वचन नहीं निभा पायेंगे। गूढ विज्ञान की ओर पसुपथ्य की रूचि जागृत होगी और कुछ अतीन्द्रिय अनुभव भी प्राप्त कर सकते हैं।