द्वारा प्रसिद्ध व्यक्तियों का राशिफल खोजे

रविंद्र जैन 2022 राशिफल

रविंद्र जैन Horoscope and Astrology
नाम:

रविंद्र जैन

जन्म तिथि:

Feb 28, 1944

जन्म समय:

12:0:0

जन्म स्थान:

Aligarh

रेखांश:

76 E 9

अक्षांश:

25 N 58

टाइम ज़ोन:

5.5

सूचना स्रोत:

Unknown

एस्ट्रोसेज रेटिंग:

अप्रामाणिक स्रोत (अ.स्रो.)


रविंद्र जैन का रोजगार राशिफल

रविंद्र जैन को ऐसा कार्यक्षेत्र चुनना चाहिए जिसमें रविंद्र जैन समूह में काम करते हों और जहाँ कार्य सम्पन्न करने की समय-सीमा अनिश्चित हो।रविंद्र जैन को कोई ऐसा कार्यक्षेत्र चुनना चाहिए, जहाँ सहभागिता से काम होता हो,उदाहरणार्थ समूह का नेतृत्व करना आदि।

रविंद्र जैन का व्यवसाय राशिफल

रविंद्र जैन ऐसे किसी कार्य से प्रसन्न नहीं रहेंगे जो नीरस और सुरक्षित हो। जब तक कि रविंद्र जैन का कार्य रविंद्र जैन के लिये नित नई परेशानियां सुलझाने के लिये नहीं लाता, रविंद्र जैन संतुष्ट नहीं होंगे। परन्तु ऐसा कुछ भी जिसमें खतरे का थोड़ा सा तड़का हो वह रविंद्र जैन को और अधिक प्रसन्न करेगा। सर्जन,कन्सट्रक्शन इंजीनियर और उच्चतर प्रबन्धन आदि, इस तरह के कार्यक्षेत्र के कुछ उदाहरण हैं। सर्जन का कार्य रविंद्र जैन को इसलिये आकर्षित करता है क्योंकि लोगों की जिन्दगियां व रविंद्र जैन की स्वयं की प्रतिष्ठा रविंद्र जैन के कार्य पर हमेशा ही निर्भर करती हैं। एक कन्सट्रक्शन इंजीनियर को हमेशा ही निर्माण सम्बन्धी चुनौतियों का सामना करना पड़ता है। हमारे कहने का आश्रय यह है कि ऐसा कोई कार्य जिसमें अत्यधिक क्षमता की जरूरज हो व हमेशा खतरों की सम्भावना हो।

रविंद्र जैन का वित्त राशिफल

रविंद्र जैन के जीवन में वित्त सम्बन्धी कई उतार-चढ़ाव आएंगे, मुख्यतः रविंद्र जैन की जल्दबाजी एवं अपनी क्षमता से अधिक का काम करने के कारण।रविंद्र जैन एक सफल कम्पनी प्रमोटर, शिक्षक, वक्ता या आयोजक हो सकते हैं। रविंद्र जैन के अन्दर सदैव से ही पैसा बनाने की क्षमता है, लेकिन साथ ही साथ इस दौरान रविंद्र जैन के कई शत्रु बन सकते हैं। रविंद्र जैन के व्यापार व उद्योग से अच्छी धनार्जन की उम्मीद है और रविंद्र जैन के जीवन में असीम धनार्जन की अनेक अवसर आएंगे यदि रविंद्र जैन अपनी इच्छा शक्ति पर काबू रखते हैं। जो कि समय-समय पर खर्चीले मुकदमों या रविंद्र जैन के शक्तिशाली शत्रुओं की वजह से रविंद्र जैन के हाथ से जा सकते हैं। अतः रविंद्र जैन को लोगों के नियंत्रण की विद्या सीखने का प्रयास करना चाहिये एवं मतभेदों से भी बचना चाहिये।